Benefits Of Dragon Fruit Red | Dragon Fruit Benefits In Hindi

1
393
Benefits Of Dragon Fruit Red
Spread the love

Table of Contents

Benefits Of Dragon Fruit Red/ dragon fruit farm

ड्रैगन फ्रूट की माँग आज हमारे देश में बहुत ही तेजी बढ़ रहा है। शायद यही कारण है कि बहुत से लोग ड्रैगन फ्रूट की खेती से साल का लाखो रुपये कमा रहे है। आप ये पोस्ट पढ़ रहे है तो आपके मन में भी सवाल है की कैसे हम भी इसकी खेती कर मोटी कमाई कर सकते है। तो आईये जानते है हर सवाल का जबाब :- 

dragon fruit in hindi, dragon fruit price in india, dragon fruit price per kg in india, scientific name of dragon fruit, dragon fruit hindi name, dragon fruit health benefits

ड्रैगन फ्रूट की खेती(about dragon fruit in hindi)/ कमलम क्या है  ? 

“Dragon Fruit” नाम से ही पता चल रहा की ये एक खास प्रकार का फल है। ड्रैगन फ्रूट ग्रीक भाषा के “हाइले” से बना है जिसका अर्थ वुडी होता है। एशिया में इसे स्ट्राबेरी नाशपाती के रूप में जानते है। मेक्सिको (dragon fruit new name) में इसे “पिथाया” बोला जाता है। अब सवाल ये आता है कि “ड्रैगन फ्रूट कहां पाया जाता है” ? मुख्यतः South America (दक्षिण अमेरिका) में ये फल होता है। इसके अलावा थाईलैंड, USA, वियतनाम, मलेशिया जैसे देशो में भी इसकी खेती अधिक होती है। भारत में ड्रैगन फ्रूट (dragon fruit in hindi name) को “कमलम” नाम से जाना जाता है।

Dragon Fruit Benefits In Hindi / ड्रैगन फ्रूट के गुण क्या है (Properties of Dragon Fruit)

दुनिया के सभी फलों में ड्रैगन फ्रूट अपने आषधिये गुणों के कारण सबसे फायदेमंद है। यह हमारे शरीर को स्वस्थ तो रखता ही है। साथ-2 ही शारीरिक बीमारियों को भी दूर भागता है। इस फल में हमारे शरीर के लिए लगभग हर पोषक तत्व (तक़रीबन 1000 पोषक) मौजूद है। इतने सारे पोषक तत्व होने से ये हमारे शरीर को कई तरह से जैसे – हमारे शरीर की इम्यून सिस्टम को ठीक रखता है जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है।

ड्रैगन फ्रूट की खेती कैसे करें(dragon fruit cultivation procedures in hindi)

ड्रैगन फ्रूट के लगभग सभी किस्म की खेती के लिए उष्णकटिबंधीय मौसम अच्छा होता है। ड्रैगन फ्रूट की खेती (Dragon Fruit Farming In Hindi) 40 cm से 60cm के वर्षा वाले एरिया में भी किया जा सकता है। इसके लिए तापमान का खास ध्यान रखना होता है। 20 ° C- 30 ° C का तापमान इसके लिए अच्छा माना गया। तापमान को मेन्टेन रखने के लिए आप शेड भी बनवा सकते है। इसका एक फायदा ये भी होगा की पौधों को सीधे धुप नहीं लगेगा और पौधा अच्छा ग्रो करेगा। 

ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए कौन सा मिट्टी चाहिए (How do you prepare the good soil for dragon fruit?) / ड्रैगन फ्रूट की खेती के लिए उपयुक्त जलवायु ?

ड्रैगन फ्रूट की खेती आप किसी भी मिटटी में कर सकते है। लेकिन अच्छी पैदवार के लिए बलुई या दोमट की अच्छा होता है। ड्रैगन फ्रूट की खेती करने से पहले खेत को अच्छे से तैयार कर ले।  सभी तरह के खड़पतवार को हटा कर खेती जुताई करे। अपने खेत का pH लेवल भी जाँच कर ले। इसके लिए pH वैल्यू 5.5 से 7 के बीच चाहिए।  

ड्रैगन फ्रूट के पौधे कहां मिलेंगे / ड्रैगन फ्रूट कहां पाया जाता है / कहाँ-2 पैदा होता है ड्रैगन फ्रूट ?

ड्रैगन फ्रूट का पौधा कहां मिलेगा इसके पौधे अधिकतर केरल, महाराष्ट्र, गुजरात,कर्नाटक, ज्यादातर कर्नाटक, केरल, पश्चिम बंगाल, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, तमिलनाडु, ओड़िसा और आंध्र प्रदेश में पैदवार होती है। किसान खेती के लिए इन्ही जगह से पौधे माँगते है। आपके लिए जो जगह नजदीक हो वह से माँगा सकते है।

ड्रैगन फ्रूट की रोपाई कैसे करें (how to grow dragon fruit?

ड्रैगन फ्रूट की खेती दो तरीके से कर सकते है।

पहली विधि – फल को बिच से काट कर दो भाग में कर ले। फिर फल के बिच के काले बीज को बहार निकल दे। उसके बाद इसका खेती में इस्तेमाल कर सकते है। इस विधि से पौधे को बढ़ने में समय लगता है। इसमें फल अच्छ आते है , लेकिन बिजनेस करने के लिए ये विधि सही नहीं है। क्योकि इसमें समय अधिक लगते है। 

दूसरी विधि – ड्रैगन पौधे को 20cm का काट ले। उसे तैयार मिटटी (मिट्टी, रेत और सूखे गोबर को 1:2:1 के अनुपात) में दबा के रखे। कटे पौधे को धुप न लगे इस बात का खास ध्यान रखे। नहीं तो आपके पौधे नहीं लगेंगे।  

 खेत में पौधे को लगते समय उचित दुरी लगभग 2 मी. x 2 मी. की रखे। पौधों के लिए  60cm*60cm का गड्ढे खोदे। जिसमे खाद और जरुरी पोषक तत्व दाल दे। सभी पौधे के साथ एक लकड़ी के डंडा या कोई भी सपोर्टिंग वस्तु लगये, फिर उसमे पौधे लगाकर मिटटी भर दे। इस तरह आप एक एकड़ में लगभग 1750 पौधे लगा सकते है। 

ड्रैगन फ्रूट की खेती में कितना और कौनसा उर्वरक डालें ?

ड्रैगन फ्रूट के पौधे के ग्रोथ और अच्छे फल के लिए जैविक खाद का इस्तेमाल करना चाहिए। ड्रैगन के हर पौधे के लिए लगभग 5 से 10 kg तक का जैविक खाद की आवश्कता होती है। ये मिटटी और जगह की अनुसार कम या ज्यादा हो सकता है। आप अधिक और अच्छे फल चाहते है तो पोषक तत्व में पोटास को ज्यादा मात्रा और नाइट्रोजन को कम मात्रा में उपयोग करना होगा।  

ड्रैगन फ्रूट की खेती में सिंचाई कैसे करें ?

ड्रैगन फ्रूट के पौधें को तैयार होने में लगभग साल भर लग जाता है। उसके बाद कहीं पौधों में फूल आते है। इस एक साल तक आपको पौधे की समूचित देखभाल करनी पड़ती है। जिसमे खास तौर पर सिंचाई और खाद का ध्यान रखना होता है। सिंचाई के लिए कई उन्नत तकनीक उपलब्ध है।  जिसमे माइक्रो जेट, ड्रिप इरिगेशन, बेसिन इरिगेशन और स्प्रिंकलर इरिगेशन का उपयोग कर सकते है। इन तकनीक से सिंचाई इसलिए करना चाहिए क्योकि ड्रैगन के पौधे को कम पानी की आवश्यकता होती है। जो इन तकनीक की मदद से आसानी से पर सकते है।

ड्रैगन फ्रूट की कटाई कब और कैसे  करें(How to cutting dragon fruit) ?

एक साल फलो की देखभाल के बाद फूल आने लगते है। फूलो के आने के बाद इसको अच्छे से तैयार होने में लगभग 30 से 35 दिन का समय लग जाता है। ड्रैगन फलो के पूरी तरह पकने से पहले हमें इसे काट लेंना चाहिए।फल तैयार होने से पहले हरे रंग का होता है। जब फल पकने लगेगा तो हरे रंग से लाल रंग होने लगेगा। आप पूरी तरह से लाल हो उस से पहले तोड़ ले। ध्यान न दें पर ये ख़राब होने लगते है। 

ड्रैगन फ्रूट की कीमत क्या है (price of dragon fruit) ? 

ड्रैगन फ्रूट को हम कहाँ और dragon fruit price in india / dragon fruit price per kilo क्या भाव है। यहाँ खुदरा भाव प्रति किलो 100 से 140 रुपये है। चुकी हम खेती कर इसका बिजनेस करना है तो हमें ज्यादा मात्रा में इसे बेचना होगा। तो थोक भाव हमे मिलगा। जिसकी कीमत प्रति किलो 60 से 100 रुपये तक मिल सकता है। 

ड्रैगन फ्रूट को कहा और कैसे बेचे ?

ड्रैगन फ्रूट की डिमांड विदेशो में अधिक है और वहाँ इसकी कीमत भी अच्छी मिलती है। आप इसको बहुत सी ऑनलाइन की साइट है जिस के थ्रू आप डायरेक्ट कंपनी से सम्पर्क कर सकते है। इसे आप अपने फलो का सही दाम भी लगवा सकते है। साथ ही आपको किसी को कोई कमिशन भी नहीं देना होगा। एक बार आप खुद बेचने लगगेंगे तो किसी की कभी जरुरत नहीं होगी। इसके अलावे अब हमारे लोकल मार्किट में भी इसका डिमांड होने लगा है,तो आप वह भी इसको बेच सकते है। 

ड्रैगन फ्रूट की खेती में कितना खर्च और कितना मुनाफा होता है ?

आप यदि एक एकड़ में ड्रैगन फ्रूट की खेती करते है तो लगभग 1600 से 1650 तक पौधे लगेंगे। इसको लगाने में और इसकी देखभाल जिसमे खाद, कीटनाशक छिड़काव, पोषक तत्व की पूर्ति और सभी पड़ो के पास सीमेंट का पोल बनवाने का खर्च मिलाकर 2 लाख तक होता है। वही बात करे इसके पैदावार की तो पहले और दूसरे साल तो कम पैदावार होता है। जिसक कारण मुनाफा नहीं समझ आता है, लेकिन तीसरे साल से 1650 पौधे से 7 से 8 टन तक की पैदवार होता है। आप आप समझ सकते है की आपको कितना मुनाफा हो सकता है। 

प्रॉफिट (Profit) – 

Total fruits – 8000kg 
Dragon fruit price per kg in india – 120/Kg 
Total – 8000 * 120 = Rs 960000/ Year 

निष्कर्ष :- 

इस पोस्ट में आपने जाना कैसे ड्रैगन फ्रूट की खेती से लोग साल का लाखो रुपये कमा रहे है। इसकी खेती के तरीके पौधे कहाँ से ले, फलो को कहाँ बेचे? हर बातो की जानकारी इस पोस्ट में दी गई है इसके बाद भी आपके कोई सवाल हो तो आप कमेंट या मेल कर हम  पूछ सकते है। आपको ये पोस्ट पसंद आया हो इसे अपनों के सात जरूर शेयर करे साथ ही नोटिफिकेशन को भी ऑन कर ले जिससे हर आर्टिकल की जानकारी आपको समय से मिलती रहे।

FAQ

Que. ड्रैगन फ्रूट की खेती कब की जाती है?

dragon fruit benefits

Ans इसके लिए तापमान का मेन्टेन रहना जरुरी होता है। इसलिए आप ड्रैगन फ्रूट को पॉली हाउस सेट-अप कर में कभी भी किसी भी जगह से इसकी खेती कर सकते है।

Que. ड्रैगन फ्रूट का पौधा कहाँ मिलेगा?

Ans भारत में कई जगह पर मिलता है। जैसे – केरल, कर्णाटक, बंगाल आदि। आप अपने नजदीक से इसको ले सकते है।

Que. ड्रैगन फ्रूट कैसे उगाया जाता है?

Ans ड्रैगन फ्रूट के लिए प्रॉपर खेत तैयार किया जाता है जिसमे एक बार लगाने पर 10 साल तक फल निकलता है।

Que. ड्रैगन फ्रूट का रेट क्या है?

Ans ड्रैगन फ्रूट कम से कम 120 रुपये किलो से 220 रुपये तक बिकते है।

Que ड्रैगन फ्रूट की खेती कब की जाती है?

Ans आप ड्रैगन फ्रूट की खेती किसी भी मौसम में कर सकते है। सिर्फ बरसात में आप वैसे जगह न करे जहाँ पानी स्टोर होता हो।

Read Also : –

स्ट्रॉबेरी की खेती से 3 लाख कमाए ? | स्ट्रॉबेरी की खेती कैसे करें ?

Online Business Ideas in Hindi- 2022 || Home Business Ideas

Top-10 मुनाफा वाले Best Business Ideas in India – Hindi || कम खर्च


Spread the love

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here